पंजाब में भी टिड्डियों के हमले का खतरा, 3 जिलों में हाई अलर्ट

चंडीगढ़ (ए एस बी): राजस्थान और मध्य प्रदेश में आतंक मचाने के बाद टिड्डियों का दल बुधवार को एक बार फिर उत्तर प्रदेश के झांसी पहुंच गया और यह अब महाराष्ट्र के रामटेक शहर की ओर भी बढ़ सकता है। यह पिछले 26 साल में टिड्डी दल का सबसे बुरा हमला है। इसके बाद पंजाब में भी हाईअलटज़् जारी कर दिया है। सामान्य तौर पर टिड्डी दल के प्रकोप से अछूता रहने वाले पंजाब में भी इस बार इनके हमले की आशंका है।
राज्य के तीन जिलों फरीदकोट, फाजिल्का व बठिंडा में टिड्डियों के हमले की आशंको को ध्यान में रखते हुए हाईअलर्ट घोषित किया गया है। फजिल्का में इसी साल अब तक 4 बार टिड्डियों ने हमला बोला है। 3 फरवरी को टिड्डियों ने सबसे बड़ा हमला रूपनगर, बारेका और अन्य गांवों में हुआ था। 14 और 23 अप्रैल को भी रूपनगर और 6 मई को गांव बारेका में टिड्डियों ने हमला किया था।
पंजाब में भी टिड्डी दल के प्रकोप का खतरा है। कृषि निदेशक स्वतंत्र कुमार ऐरी ने कहा, पूरे पंजाब में अलर्ट जारी किया गया है। उन्होंने कहा कि प्रत्येक जिले में नियंत्रण कक्ष बनाये गये हैं और किसानों से किसी भी तरह की टिड्डी दल संबंधी गतिविधि की जानकारी देने को कहा गया है। जनवरी में पंजाब के फजिल्का और मुक्तसर जिलों में कुछ गांवों में टिड्डी दल देखे गये थे लेकिन तब उन पर प्रभावी तरीके से काबू पा लिया गया। वहीं, खेतीबाड़ी (कृषि) विभाग के सचिव काहन सिंह पन्नू ने कहा कि हालात से निपटने की तैयारी पूरी कर ली गई है। दवाओं की खरीद के लिए एक करोड़ से ज्यादा की राशि रखी हुई है और टीमें गांवों में निगरानी कर रही हैं।

Author: Ashish Sharma

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *